डोरंडा कॉलेज के प्रोफ़ेसर की बर्खास्तगी को लेकर युवा कांग्रेस ने प्राचार्य का किया घेराव।
टीचर की मानसिक स्तिथि ठीक नही तो इलाज कराए- इंदरजीत सिंह
यूथ कांग्रेस आउटरीच सेल के प्रदेश अध्यक्ष एव एन.एस.यू.आई के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह के नेतृत्व में डोरंडा कॉलेज की शिक्षिका से दुर्व्यवहार के आरोपी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर डोरंडा कॉलेज के प्राचार्य का घेराव किया गया। विदित हो कि डोरंडा कॉलेज के बीएड के शिक्षक ओम प्रकाश ने डोरंडा कॉलेज में सभी का जीना बेहाल कर दिया है। चाहे वो विद्यार्थियों का हो, कॉलेज के शिक्षक का हो, कॉलेज के गॉर्ड या कर्मचारियों का । आये दिन ओम प्रकाश के खिलाफ सभी ने लिखित कंप्लेन दिया है, लेकिन आज तक कोई सुनवाई नही हुई। एन.एस.यू.आई के जिला महासचिव अब्दुल राबनावाज ने बताया कि हाल ही में कॉलेज की शिक्षिका डॉ दीपिका टोप्पो के साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया एव उनके साथ दुर्व्यवहार किया। शिक्षिका ने लिखित शिकायत कॉलेज में किया, डोरंडा थाना में भी एफ.आई.आर किया गया लेकिन सुनवाई नहीं हुई। कल सभी छात्र संगठनों ने मिल कर कुलपति को ओम प्रकाश के खिलाफ ज्ञापन भी दिया। कुलपति ने सभी के सामने उस शिक्षक को अगले दिन से कॉलेज में आने से मना भी किया। लेकिन फिर भी वो कॉलेज ने आ के गुंडागर्दी किया । ओम प्रकाश ने कुछ दिन पहले कॉलेज के गॉर्ड का भी हाथ तोड़ दिया। कॉलेज के विद्यार्थियों के साथ जाती सूचक गाली का प्रयोग किया। मौके पर प्राचार्य ने कहा कि उस शिक्षक की लिखित शिकायत यूनिवर्सिटी में अनेकों बार दी गयी है। उस टीचर की मानसिक स्तिथि भी ठीक नही है। इंदरजीत सिंह ने कहा कि अगर उस शिक्षक की मानसिक स्तिथि ठीक नही है तो उन्हें घर पर रखे, इलाज कराए। ऐसे खुले में कभी कुछ बड़ी घटना का अंजाम दे दिया तो इसके जिम्मेवार कौन होंगे।
24 घंटे का दिया अल्टीमेटम
मौके पर इंदरजीत सिंह ने कहा कि अगर 24 घण्टे में शिक्षक के ऊपर करवाई नही की जाती है तो अगले दिन से कॉलेज में अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। मौके पर युथ कांग्रेस आउटरीच के झारखंड प्रभारी आशुतोष सामंत्रय, अब्दुल राबनावाज, ऋषभ सिंह,कैश आलम, एहतेशाम अहमद, रवि, रोहित, इबरार अंसारी,
विशाल ,शादमान खान, मोहम्मद कैफ, अयाज़ आलम, मोहम्मद तौकीर एव विद्यार्थी लोग मौजूद थे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed